इंदौर, उज्जैन सहित कई स्थानों पर बौछारें पड़ने के आसार

भोपाल। वातावरण में कुछ नमी बढ़ने और पूरे प्रदेश में तापमान बढ़े रहने के कारण कई स्थानों पर गरज-चमक के साथ बौछारें पड़ने की संभावना बन गई है। इसी क्रम में मंगलवार को इंदौर,उज्जैन में हल्की बौछारें भी पड़ीं।

मौसम विज्ञान केंद्र के मुताबिक मंगलवार को प्रदेश में सबसे अधिक तापमान 44 डिग्रीसे. खरगोन में रिकार्ड किया गया।

भोपाल में 41.3,इंदौर में 39.8,ग्वालियर में 41.4,जबलपुर में 41.8,सागर में 41.2, उज्जैन में 40.5,पचमढ़ी में 36 ,होशंगाबाद में 43.2,दमोह में 43.5 डिग्रीसे. तापमान दर्ज किया गया। मंगलवार को इंदौर में 0.2 मिमी. पानी गिरा,जबकि उज्जैन में बूंदाबांदी हुई।

दरअसल वर्तमान में पश्चिमी मप्र पर एक चक्रवात बना हुआ है। इसके अतिरिक्त उत्तरप्रदेश से पूर्वी मप्र होते हुए मध्य महाराष्ट्र तक एक ट्रफ(द्रोणिका लाइन) बना हुआ है। इन सिस्टम के कारण कुछ आद्रता मिल रही है। इस वजह से प्रदेश के अनेक स्थानों पर गरज-चमक की स्थिति बनने की संभावना है।

महाकोशल-विंध्य में भीषण गर्मी

जबलपुर। महाकोशल-विंध्य के जिलों में मंगलवार को भीषण गर्मी रही। दोपहर होते ही लोगों ने घर से बाहर निकलने से परहेज किया। वहीं जो लोग जरूरी काम से बाहर निकले उन्होंने छाता, टोपी, गमछा, चश्मा का उपयोग करते हुए तेज धूप से बचाव किया। दोपहर बाद कटनी, डिंडौरी, शहडोल, उमरिया, सीधी में बादल छाए रहे।