देश के गिरते स्तर का मूल कारण शिक्षा का गिरता स्तरः स्वामी सुजयानंद

 

 

जनपदीय युवा सम्मेलन एवं रामकृष्ण सेवाश्राम  पाली स्थापना समारोह में मंचासीन अतिथिगण व कार्यक्रम में मौजूद गणमान्य नागरिक                                                            ललितपुर। युवाओं को शिक्षित होने की जगह शिक्षित बनने की जरूरत है क्योंकि कि युवा शिक्षित बनेगा तो देश शिक्षित बनेगा । यह बातें कार्यक्रम के मुख्य अतिथि सुजयानंद महाराज रामकृष्ण सेवाश्रम ग्वालियर ने आज पाली के छत्रपति शिवाजी डिग्री कालेज  मे आयोजन  स्वामी विवेकानंद द्वारा शिकागों सम्मेलन में दिए गए भाषण की 125वीं वर्षगांठ के उपलक्ष्य में जनपदीय युवा सम्मेलन एवं रामकृष्ण सेवाश्रम  के स्थापना समारोह के अवसर पर कहीं। श्री महाराज ने कहा कि देश के गिरते स्तर का मूल कारण शिक्षा का गिरता स्तर है। शिक्षा का मूल उद्देश्य है आर्दश स्थापित करना , अपने जीवन को किस तरह आर्दशवान बनाऐ इस को लेकर युवाओं का मार्गदर्शन किया। कार्यक्रम में अध्यक्षता एसडीएम पाली नरेन्द्र सिंह ने की ।  एसडीएम श्री सिंह ने अपने सम्बोधन में कहा कि स्वामी विवेकानंद की दूसरे के लिए तत्पर रहना मानववाद की स्थापना सबसे बड़ी देेन है। तो वही युवा प्रवक्ता धमेेेन्द्र गोस्वामी ने स्वामी विवेेेकानंद जी के जीवन पर प्रकाश डालते हुए कहा कि वह.पहले स्वतंत्रता सेनानी थे जिन्होंने अमानवीयता से भारतियों को स्वतंत्र कराया।  इसीक्रम में  मुख्य वक्ताओं में प्रो. भगवत नारायण शर्मा, डा. पूरन सिंह निरंजन, डा. जनक किशोरी शर्मा, ने स्वामी विवेकानंद जी के जीवन पर प्रकाश डाला।  वही युवा वक्ताओं में राजेंद्र  जी रजक,  के अलावा राजेश यादव ने स्वामी विवेकानंद जी के बताते रास्ते पर युवाओं को चलने  की बात कही । कार्यक्रम के दौरान समाज सेवा में कार्य कर रहे समाजसेवियों को संस्थान द्वारा सम्मानित किया गया। कार्यक्रम में एम एस डी डिग्री कालेज के प्रबंधक अशोक कुमार पटेल, प्राचार्य डा. राजेन्द्र प्रकाश , इन्द्रपाल एम एस डी डिग्री कालेज के प्रबंधक के अलावा गणमान्य। नागरिक उपस्थित रहे।

 संस्कृति कार्यक्रम की प्रस्तुति 

एम एस डी डिग्री कालेज पाली में आयोजित कार्यक्रम में राष्ट्रीय सेवा योजना के कार्यक्रम अधिकारी नरेश कुमार निरंजन के नेतृत्व में राष्ट्रीय सेवा योजना  स्वयंसेवक एवं डा. सोनू श्रीवास्तव व करुणाकर शर्मा के मार्गदर्शन में रोवर्स रेजर्स ने कार्यक्रम में प्रस्तुत दी।