भगवान महाकाल का आशीर्वाद लेकर प्रारंभ होगी जनआशीर्वाद यात्रा

भोपाल। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान 14 जुलाई को उज्जैन से अपनी जन आशीर्वाद यात्रा शुरू करेंगे। पिछली यात्रा की ही तर्ज पर इस बार भी वे भगवान महाकाल के दर्शन जनता का आशीर्वाद लेने निकलेंगे, लेकिन इस बार प्रदेश के सभी 230 विधानसभा क्षेत्रों तक उनका रथ पहुंचेगा। साल 2013 में चौहान ने 206 विधानसभा क्षेत्रों में ही रथयात्रा की थी। जन आशीर्वाद यात्रा की शुरूआत भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह कराएंगे और इस मौके पर उज्जैन में एक बड़ी जनसभा होगी, जिसे राहुल गांधी की मंदसौर जनसभा का जवाब माना जा रहा है।

 14 जुलाई से शुरू होने वाली इस यात्रा का समापन 25 सितंबर को भोपाल में होने वाले कार्यकर्ता महाकुंभ के साथ होगा। इस आयोजन में प्रदेश भर के लाखों भाजपा कार्यकर्ता शामिल होंगे और अबकी बार चौथी बार सरकार का संकल्प लेंगे। मुख्यमंत्री की जन आशीर्वाद यात्रा की शुरूआत के मौके पर उज्जैन में एक बड़ी जनसभा होगी, जिसे पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह संबोधित करेंगे। इस सभा में पार्टी के प्रमुख नेता भी मौजूद रहेंगे। 14 जुलाई से 16 जुलाई तक के जन आशीर्वाद यात्रा का पहला चरण तीन दिन का होगा, इसके बाद यात्रा एक चरण में दो दिन चलेगी। उज्जैन से शुरू होने वाली यात्रा के पहले चरण में मुख्यमंत्री लगभग 300किमी का सफर तय करेंगे और रतलाम में यात्रा के इस चरण को विराम देंगे। इस चरण में 11 विधानसभा क्षेत्रों में मुख्यमंत्री का रथ पहुंचेगा। यात्रा का दूसरा चरण 18जुलाई को मां शारदा के दर्शन और पूजन के साथ मैहर से शुरू होगा। दो दिन की इस यात्रा को नागौद में विराम दिया जाएगा। इस दौरान मुख्यमंत्री विंध्य अंचल के सात विधानसभा क्षेत्रों में जनता के बीच पहुंचेंगे और आशीर्वाद लेंगे। जुलाई माह में जन आशीर्वाद यात्रा के तीन और चरण होंगे।

मुख्यमंत्री की जन आशीर्वाद यात्रा का यह क्रम सितंबर माह तक चलेगा और 25 सितंबर को भोपाल में होने वाले कार्यकर्ता महाकुंभ के साथ यात्रा का समापन होगा। महाकुंभ में भाजपा के सभी बड़े नेता भी भागीदारी करेंगे। यात्रा को सुव्यवस्थित ढंग से संचालित करने के लिए भाजपा संभाग और विधानसभा स्तर पर बैठकें शुरू कर रही है । राष्ट्रीय उपाध्यक्ष प्रभात झा को जन आशीर्वाद यात्रा का प्रभारी बनाया गया है। यात्रा के संयोजक प्रदेश महामंत्री अजय प्रताप सिंह हैं। सहकारिता राज्य मंत्री विश्वास सारंग और प्रदेश मंत्री पंकज जोशी यात्रा के सह संयोजक बनाए गए हैं।

दो हिस्सों में बांटा प्रदेश, दो रथ होंगे सीएम के लिए

जन आशीर्वाद यात्रा का प्रत्येक चरण दो दिन का होगा और इसके लिए प्रदेश को दो हिस्सों में बांटा गया है। एक हिस्से में विंध्य, बुंदेलखंड औरमहाकौशल को रखा गया है। दूसरे हिस्से में भोपाल, नर्मदापुरम, ग्वालियर-चंबल और मालवा-निमाड़ के विधानसभा क्षेत्र होंगे। मुख्यमंत्री सप्ताह में चार दिन जन आशीर्वाद यात्रा पर रहेंगे। दो दिन एक हिस्से में तो दूसरे दो दिन प्रदेश के दूसरे हिस्से में यात्रा करेंगे। इसके लिए दो रथ तैयार किए जाएंगे। जो अलग-अलग हिस्सों में रहेंगे।