Breaking News

››  केन्द्र का नोटिस: मोबाइल कंपनियों से पूछा, डेटा कैसे रखते हैं सेफ ››  लालकिले से PM मोदी ने दिया हिसाब:देश में सामने आया 2 लाख करोड़ का कालाधन ››  कश्मीर: SC ने कहा, अनुच्छेद 35A पर संविधान की पीठ कर सकती है सुनवाई ››  गोरखपुर में बच्चों की मौत नहीं हत्या हुई है- राज बब्बर ››  सुप्रीम कोर्ट: सभी पक्षों को दिया 3 महीने का समय, अगली सुनवाई 5 दिसंबर को ››  RS चुनाव : कांग्रेस ने बगावत करने वाले 8 विधायकों पार्टी से निकाला ››  एक साथ सड़क पर निकले 3 लाख लोग, फडणवीस सरकार ने पिछड़ा आयोग को भेजा मामला ››  स्वतंत्रता दिवस पर मुख्यमंत्री भोपाल और डॉ. शेजवार सीहोर में फहराएंगे ऱाष्ट्र ध्वज ››  अनशन पर बैठी मेधा पाटकर को नहीं किया अरेस्ट: CM शिवराज ››  गुजरात RS :कांग्रेस के चाणक्य अहमद पटेल की जीत, मिले 44 वोट

भाजपा सरकार की सच्चाई धीरे-धीरे जनता के सामने आने लगी: अखिलेश यादव

 

Akhilesh_Yadav_समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने  गुरुवार को कहा कि भाजपा के नोटबंदी व जीएसटी से जनता उलझ कर रह गई है। भाजपा सरकार की सच्चाई धीरे-धीरे जनता के सामने आने लगी है। उनके बजट में जनता के हित में कुछ भी नहीं है।

अखिलेश पार्टी मुख्यालय में कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा कि जीएसटी व्यवस्था किसी की समझ में नहीं आ रही है। यह बड़े कारोबारियों के फायदे के लिए है। यूपी सरकार की किसानों की कर्जमाफी भूलभुलैया की भेंट चढ़ जाएगी। यह किसानों के साथ धोखा है। समाजवादी सरकार की जनहित की योजनाएं एक-एक कर बंद की जा रही हैं। उन्होंने कटाक्ष करते हुए कहा कि ऐसा लगता है कि भाजपा सरकार ‘मंत्र’ से ही सभी समस्याओं का समाधान कर देगी। उन्होंने कहा कि भाजपा का उद्देश्य वोट के लिए नफरत फैलाना है। उसके झूठ फैलाने से लड़ाई है। यह बड़ी लड़ाई है। भाजपा ने दिवाली और रमजान, श्मशान और कब्रिस्तान के सवाल उठाकर जनता को भ्रमित किया। भाजपा राज में अपराध बढ़े हैं। अपराध नियंत्रण का दावा करने वाले मुख्यमंत्री को बताना चाहिए कि उनकी सरकार ने कितने बड़े अपराधियों, भूमाफियाओं और भ्रष्टाचारियों को पकड़ा है। कहा, प्रदेश की विकास दर 6 प्रतिशत बताई गई, जबकि देश की तरक्की में मुस्लिमों के सहयोग को हटा दे तो यह 2 प्रतिशत ही रह जाएगी।

 
भाजपा सरकार की सच्चाई धीरे-धीरे जनता के सामने आने लगी: अखिलेश यादव  
 
 

0 Comments

You can be the first one to leave a comment.

 
 

Leave a Comment