येदियुरप्पा ने ली कर्नाटक के मुख्यमंत्री पद की शपथ ,बहुमत साबित करने के लिए 15 दिन

बुधवार सुबह 9 बजे भाजपा नेता बीएस येदियुरप्पा ने कर्नाटक के मुख्यमंत्री पद की शपथ ले ली। अब उन्हें कर्नाटक विधानसभा में बहुमत साबित करने के लिए 15 दिन का समय मिला है।इससे पहले कर्नाटक में राज्यपाल ने सबसे बड़ी पार्टी होने के नाते भाजपा को सरकार बनाने का न्योता दिया तो कांग्रेस भड़क गई और उसने जेडीएस के साथ मिलकर सुप्रीम कोर्ट का रुख किया। बुधवार देर रात करीब 1.30 बजे सुनवाई शुरू हुई और सुबह 4.30 बजे तीन जजों की बेंच ने फैसला सुनाया। सर्वोच्च अदालत ने भाजपा के सीएम प्रत्याशी बीएस येदियुरप्पा के शपथ ग्रहण पर रोक लगाने से इन्कार कर दिया है। हालांकि गुरुवार दोपहर दो बजे तक विधायकों की लिस्ट जरूर मांगी है। अगली सुनवाई शुक्रवार सुबह होगी।

गौरतलब है कि विधानसभा की कुल 224 में से 222 सीटों पर हुए चुनाव में भाजपा को 104, कांग्रेस को 78, सहयोगी बसपा के साथ जदएस को 38 और अन्य को दो सीटें मिली हैं। ऐसे में बहुमत के लिए जरूरी 112 के आंकड़े के सबसे करीब भाजपा ही रही।

भाजपा ने येदियुरप्पा को मुख्यमंत्री पद के चेहरा बनाकर चुनाव लड़ा था। आरएसएस के एक साधारण कार्यकर्ता से लेकर दक्षिण भारत में भाजपा को पहली बार जीत दिलाकर येदियुरप्पा पहले मुख्यमंत्री रह चुके हैं। हालांकि, साल 2011 में भ्रष्टाचार के आरोप में मुख्यमंत्री पद से हटने की उनकी राजनीतिक यात्रा उतार-चढ़ाव भरी रही है।