राकेश सिंह ने संभाला प्रदेशाध्यक्ष का पदभार

 जबलपुर से 3 बार के सांसद राकेश सिंह बीजेपी के नए प्रदेश अध्यक्ष बनाए गए हैं। राजधानी भोेपाल स्थित बीजेपी दफ्तर में सीएम शिवराज की मौजूदगी में राकेश सिंह ने पदभार संभाला। इस मौके पर पूर्व अध्यक्ष नंदकुमार चौहान समेत कई मंत्री और नेता मौजूद रहे। सीएम शिवराज ने पूर्व अध्यक्ष के कार्यकाल की सराहना करते हुए उम्मीद जाहिर की नए अध्यक्ष राकेश सिंह की अगुवाई में पार्टी नए मुकाम हासिल करेगी।

आगामी चुनाव में पार्टी को दिलाएंगे बड़ी जीत 

पदभार संभालने के तुंरत बाद राकेश सिंह मीडिया से रुबरू हुए जहां उन्होंने कहा कि, कहा कि वो केंद्रीय नेतृत्व और सीएम शिवराज के आभारी है। अक्षय तृतीया के मौके को शुभ शुरुआत बताते हुए राकेश सिंह ने उम्मीद जताई कि, पार्टी के सभी नेताओं के सहयोग से आगामी चुनाव में पार्टी फिर बड़ी जीत हासिल करेगी और सरकार बनाएगी।

राकेश सिंह के लिए चुनौती !

इस साल के अंत में होने वाले विधानसभा के चुनाव उनकी पहली बड़ी परीक्षा होगी। पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव और मुख्यालय प्रभारी अरुण सिंह ने पत्र जारी कर राकेश सिंह की अधिकृत नियुक्ति की घोषणा की। बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने इस साल के अंत में होने वाले विधानसभा चुनावों के ठीक पहले प्रदेश संगठन की कमान राकेश सिंह को सौंप दी है। राकेश सिंह नंदकुमार सिंह चौहान का स्थान लेंगे। हालांकि, पार्टी ने नंदकुमार सिंह चौहान को पार्टी की राष्ट्रीय कार्यसमिति का सदस्य नियुक्त किया है। प्रदेश अध्यक्ष के तौर पर राकेश सिंह पर प्रदेश सरकार के लिए बन रहे एंटी इनकम्बंसी फेक्टर को खत्म करने की अहम जिम्मेदारी है। संगठन और सत्ता के बीच तालमेल बनाना भी राकेश सिंह के सामने अहम चुनौती है। पार्टी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष और प्रदेश प्रभारी डॉ. विनय सहस्त्रबुद्धे पहले ही राकेश सिंह के नाम की पुष्टि कर चुके थे, लेकिन पार्टी के राष्ट्रीय नेतृत्व की ओर से पत्र जारी कर राकेश सिंह के नाम की अधिकृत घोषणा की गई।

राकेश सिंह का सियासी सफर

-1978-1979: साइंस कॉलेज में बी.एस.सी. प्रथम वर्ष में महाविद्यालय की कार्यकारिणी सदस्य बने

-1979-1980: साइंस कॉलेज में विश्वविद्यालय प्रतिनिधि

-1994-1995: जबलपुर टिम्बर मर्चेन्ट्स एसो. की कार्यकारिणी में निर्वाचित सदस्य

-1994: बरगी विधानसभा क्षेत्र के बीजेपी के चुनाव संचालक

-1999: एक बार फिर बरगी से बीजेपी के चुनाव संचालक की जिम्मेदारी

-2001: जबलपुर ग्रामीण से बीजेपी जिलाध्यक्ष के पद पर नियुक्त

-2004: जबलपुर संसदीय क्षेत्र से जीतकर पहली बार लोकसभा पहुंचे

-2009: जबलपुर लोकसभा सीट पर एक लाख मतों से विजयी

-2010: बीजेपी के प्रदेश महामंत्री बनाए गए

-2014: लगातार तीसरी बार लोकसभा पहुंचे

कौन है राकेश सिंह ?

-2004 से लागातार जबलपुर से सांसद

-2014 में राकेश सिंह ने विवेक तनखा को हराया

-राकेश सिंह महाराष्ट्र बीजेपी के प्रभारी भी हैं

-2001 में जबलपुर से  बीजेपी के जिला अध्यक्ष भी रहे

-बीजेपी के प्रदेश महामंत्री की जिम्मेदारी भी निभाई

-राकेश सिंह कई संसदीय समितियों के सदस्य

-लोकसभा की एक स्थाई समिति के अध्यक्ष

-लोकसभा में पार्टी के मुख्य सचेतक

-छात्र राजनीति से सक्रिय हैं राकेश सिंह

प्रहलाद पटेल के अगुवाई में राकेश सिंह ने शुरू की छात्र राजनीति

राकेश सिंह ही क्यों ?

-केंद्रीय नेतृत्व में अच्छी पैठ

-साफ-सुथरी छवि, बेहतर संगठनात्मक अनुभव

-राकेश सिंह की पहचान अच्छे कैंपेनर के रुप में

-अमित शाह के करीबी हैं राकेश सिंह

-महाकौशल में बीजेपी का कद्दावर चेहरा

-सत्ता और संगठन में तालमेल बैठाने में माहिर