शराब की भयंकर आदी थी पूजा ,पिता ने ऐसे बदल दी जिंदगी

90 के दशक की मशहूर अदाकारा पूजा भट्ट आज 46 साल की हो चुकी हैं। 24 फरवरी 1972 को जन्मीं पूजा का नाम उस दौर की सफल एक्ट्रेसेस में आता है। पूजा ने ना केवल एक्टिंग में नाम कमाया बल्कि बतौर प्रोड्यूसर और डायरेक्टर भी अपनी पहचान बनाई। . ‘दिल है कि मानता नहीं’, ‘सड़क’, ‘जख्म’ उनकी हिट फिल्मों में शामिल हैं. पूजा भट्ट पिछले दिनों तब चर्चा में आईं, जब उन्होंने शराब के एडिक्शन से बाहर निकलने पर किताब लिखने की घोषणा की. पूजा भट्ट एक समय में शराब की बेहद आदी हुआ करती थीं. उन्होंने अपना पूरा वाकया शेयर किया था कि वे किस तरह इस बुरी लत से बाहर निकलीं. पूजा भट्ट ने बताया था कि पहली बार उन्होंने सिगरेट 23 साल की उम्र में पी थी. वे 16 साल की उम्र से ड्रिंक कर रही थीं. एंग्लो इंडियन फैमिली से होने के कारण रविवार को टेबल पर वाइन और बीयर मौजूद होना उनके घर में आम बात थी. इसका असर पूजा पर भी हुआ और वे शराब की आदी हो गईं.  पूजा ने बताया कि किस तरह उनके पिता महेश भट्ट के एक मैसेज के बाद उन्होंने शराब छोड़ने का फैसला लिया था. बकौल पूजा, 21 दिसंबर, 2016 को मेरे पिता ने दिल्ली से मुझे मैसेज किया और हम देश के हालात पर बात करने लगे. हमारे बीच नेताओं को लेकर बात हुई. फोन रखते हुए उन्होंने मुझसे कहा, ‘आई लव यू बेटा.’ मैंने जवाब दिया ‘आई लव यू टू पापा. दुनिया में इससे ज्यादा प्यारा मेरे लिए कुछ और नहीं है.’ उनका जवाब था, ‘यदि तुम मुझसे प्यार करती हो तो तुम खुद से प्यार करो, क्योंकि मैं तुम्हारे अंदर बसता हूं