Breaking News

››  आज बरसाना में लट्ठमार होली खेलने पहुंचेंगे CM योगी ››  मुख्य सचिव से मारपीट मामले में केजरीवाल से पूछताछ कर सकती है पुलिस,आप का आज देशभर में प्रदर्शन ››  कोलारस ,मुंगावली उपचुनाव:कडी सुरक्षा के बीच मतदान शुरू ››  शराब की भयंकर आदी थी पूजा ,पिता ने ऐसे बदल दी जिंदगी ››  चुनाव आयोग ने CM को दी सलाह , माया सिंह को नोटिस, 25 तक मांगा जवाब, सिंधिया का जवाब संतोषप्रद नहीं,आयोग ने की निंदा ››  CS से बदसलूकी के विरोध में मध्यप्रदेश IAS एसोसिएशन, सरकार को बर्खास्त कर राष्ट्रपति शासन की उठाई मांग ››  कोलारस क्षेत्र को दी मुख्यमंत्री ने 1 हजार करोड़ की सौगातें : डॉ. मिश्रा ››  मुंगावली और कोलारस : कल शाम पांच बजे थम जाएगा चुनाव प्रचार, शिवराज के तूफानी दौरे, दिन-रात किए एक, ››  राज्यपाल की सुरक्षा में बड़ी चूक : काफिले में अचानक घुसी गाय, ››  रमन सरकार की मुश्किलें बढ़ाएंगे, 23 फरवरी को राजधानी घेरेने की तैयारी में किसान

सरकार ने बुलाई सर्वदलीय बैठक: विपक्ष से भारत-चीन गतिरोध और कश्मीर सुरक्षा पर करेगी चर्चा

 

indiaचीन और भारत के बीच चल रहे गतिरोध और जम्मू-कश्मीर के सुरक्षा हालात को लेकर केंद्र सरकार ने आज सर्वदलीय बैठक बुलाई है। ये बैठक आज शाम गृहमंत्री राजनाथ सिंह पर आवास पर बुलाई गई है। बैठक में सरकार इन मुद्दों पर विपक्ष से चर्चा करेगी और सरकार की रणनीति से विपक्षी दलों को अवगत कराएगी।  राजनाथ सिंह के आवास पर होने वाली इस सर्वदलीय बैठक में सुषमा स्वराज, राजनाथ सिंह के अलावा सभी बड़े मंत्री मौजूद रहेंगे। इस बैठक में विदेश मंत्री सुषमा स्वराज चीन के साथ जारी सीमा विवाद पर सरकार का पक्ष विपक्ष दलों के सामने रखेंगी। जबकि गृहमंत्री राजनाथ सिंह कश्मीर के ताज़ा हालात पर बात करेंगे।

संसद में मुद्दा उठा सकता है विपक्ष
इस बैठक को संसद के मानसून सत्र से पहले विपक्ष के साथ बेहतर तालमेल बनाने को लेकर सरकार की कोशिश माना जा रहा है। सरकार जानती है कि विपक्ष कश्मीर और चीन के मुद्दे पर सरकार को घेरेगा, इसीलिए पीएम मोदी ने राजनाथ और सुषमा के जरिए विपक्ष को भरोसे में लेने की कोशिश की है।

भारत ने ठुकराया चीन का प्रस्ताव
चीन के कश्मीर में सकारात्मक भूमिका निभाने संबंधी बयान को भारत ने कोई तवज्जो नहीं दी है। चीन का प्रस्ताव ठुकराते हुए भारत ने कहा कि मामले के मूल में सीमा पार से भारत में फैलाया जा रहा आतंकवाद है। इससे पूरे क्षेत्र में शांति और स्थिरता को खतरा उत्पन्न हो गया है।

 
सरकार ने बुलाई सर्वदलीय बैठक:  विपक्ष से भारत-चीन गतिरोध और कश्मीर सुरक्षा पर करेगी चर्चा