Breaking News

››  कांग्रेस के पक्ष में वातावरण को जीत में बदलना होगा : कमलनाथ ››  दिग्विजय सिंह पीसीसी में आज लेंगे समन्वय समिति की पहली बैठक ››  राज्यवर्धन ने पेले दण्ड तो एमपी BJP के राजेन्द्र ने जवाब में उठाया 110 किलो भार.. ››  कर्नाटक: कुमारस्वामी ने ली मुख्यमंत्री पद की शपथ , ››  समन्वय समिति में गौतम को शामिल किए जाने पर मंदसौर कांग्रेस इकाई में तेवर बागी,विधायक डंग का पीसीसी प्रतिनिधि पद से इस्‍तीफा ››  दिनभर यात्रियों हुए परेशान , शाम को बस हड़ताल समाप्‍त ››  बैतूल कलेक्टर को एफबी पर दी जान से मारने की धमकी देश के गृहमंत्री और बैतूल की सांसद के खिलाफ की आपत्तिजनक पोस्ट ››  भोपाल जिला कांग्रेस के अध्यक्ष की कमान कैलाश मिश्रा , अरुण श्रीवास्तव को ग्रामीण की कमान ››  कुमार होंगे कर्नाटक के स्वामी, 23 मई को लेगे मुख्यमंत्री पद की शपथ ››  मुख्यमंत्री जन-कल्याण योजना: गरीबों के इलाज की नि:शुल्क व्यवस्था की जायेगी: शिवराज

10 हजार की रिश्वत लेते पन्‍ना जिले में डिप्टी रेंजर गिरफ्तार

 

पन्ना। पन्ना टाइगर रिजर्व की चंद्रनगर रेंज में पिछले महीने हुए चीतल के शिकार से जुड़े एक मामले में शिकारी और संदेहियों को बचाने के लिए 10 हजार रुपए की रिश्वत लेते डिप्टी रेंजर बाबूसिंह चंदेल को सागर लोकायुक्त टीम ने रंगे हाथ गिरफ्तार किया है। शिकायतकर्ता महादेव कुशवाहा ने बुधवार की सुबह छतरपुर जिले के बमीठा के पास एक ढाबे में बैठे बाबूसिंह को जैसे ही 10 हजार रुपए की रिश्वत दी, उसी समय लोकायुक्त पुलिस सागर की टीम ने उन्हें पकड़ लिया। कुशवाहा ने बताया कि 10 अप्रैल 2018 को चीतल के शिकार मामले में दर्ज पीओआर (वन अपराध) में चंदेल सिंह ने उनके भाइयों रेखराज और जुगला के शामिल होने की जानकारी देते हुए इस प्रकरण को कमजोर करने और उन्हें बचाने के लिए रिश्वत मांगी थी। इसकी लिखित शिकायत लोकायुक्त पुलिस सागर को की गई थी।

बताया जा रहा है कि इस प्रकरण को बेहद गोपनीय रखते हुए चंदेल ग्रामीणों को शिकार के मामले में फंसाने की धमकी देते हुए अवैध वसूली कर रहा था। चंद्रनगर रेंज के रेंजर उमेश कुमार योगी का कहना है कि शिकार के इस प्रकरण को सिर्फ इसलिए गुप्त रखा गया क्योंकि उसमें शामिल एकमात्र नामजद आरोपित के फरार होने की आशंका थी।

नामजद आरोपी को गिरफ्तार करने के बाद पूछताछ के आधार पर अन्य आरोपियों की धरपकड़ की कार्रवाई की जाती। शिकार के इस मामले में जांच अधिकारी कौन है, महीनेभर में कितने लोगों की गिरफ्तारी हुई, मैं इस संबंध में कुछ नहीं बता सकता। पूरा मामला लोकायुक्त पुलिस को सौंपा जा चुका है।

 
10 हजार की रिश्वत लेते पन्‍ना जिले में डिप्टी रेंजर  गिरफ्तार