July 1, 2020

टिड्डियों से निपटने को एयरफोर्स का Mi 17 हेलिकॉप्टर तैयार, ट्रायल सफल – Iaf mi 17 helicopters carry out trials with airborne locust control system

  • बेंगलुरु में वायुसेना के हेलिकॉप्टर ने किया है ट्रायल
  • हेलिकॉप्टर से टिड्डी दल पर होगा कीटनाशक छिड़काव

देश के कई हिस्सों में टिड्डियों का हमला जारी है. टिड्डी दल से निपटने के लिए सरकार तमाम स्तरों पर काम कर रही है. इस बीच, टिड्डियों से निपटने के लिए वायुसेना के Mi 17 हेलिकॉप्टरों का भी इस्तेमाल करने के लिए ट्रायल किया गया.

ट्रायल के दौरान सभी तरह के देशी कम्पोनेंट्स का इस्तेमाल किया गया. ट्रायल में आसमान में हवा से कीटनाशक का छिड़काव किया गया जो कि सफल रहा है. वायु सेना के इन हेलिकॉप्टर्स में छिड़काव करने के लिए विशेष व्यवस्था की है ताकि कीटनाशक का छिड़काव किया जा सके.

हर हेलिकॉप्टर में 800 लीटर कीटनाशक मैलाथियान को रखने की क्षमता है. जिससे संक्रमित क्षेत्र में लगभग 40 मिनट तक छिड़काव किया जा सकता है. एक बार में लगभग 750 हेक्टेयर के क्षेत्र में छिड़काव किया जा सकता है.

हरियाणा: शाम तक सोनीपत पहुंच सकता है टिड्डी दल, प्रशासन ने जारी किया अलर्ट

पायलट और एयरक्राफ्ट एंड सिस्टम्स टेस्टिंग इस्टैब्लिशमेंट के टेस्ट इंजीनियर्स की एक टीम ने बेंगलुरु में Mi-17 हेलिकॉप्टर पर ALCS के ग्राउंड पर ट्रायल को सफलतापूर्वक अंजाम दिया है.

बता दें कि टिड्डी दल अब गुरुग्राम तक पहुंच चुका है. गुरुग्राम के भीमगढ़ खेड़ी, राजेंद्र पार्क, सूरत नगर, लक्ष्मण विहार, दौलताबाग फ्लाईओवर पर टिड्डियों का दल मंडरा रहा है. फसलों के ऊपर टिड्डी दलों को मंडराते देखकर किसान परेशान हैं और उन्हें भगाने की कोशिशों में जुटे हैं. इस बीच टिड्डी दल फरीदाबाद भी पहुंच गया है.

टिड्डी दल का हमला प्राकृतिक आपदा घोषित हो, किसानों को मिले मुआवजा: कांग्रेस

दिल्ली में टिड्डियों के खतरे को देखते हुए दिल्ली सरकार के विकास मंत्री गोपाल राय ने इमरजेंसी बैठक बुलाई थी. शनिवार को टिड्डियों का दल शहरी इलाकों में भी पहुंच गया है. किसान पटाखे, टिन के डिब्बे बजाकर और धुएं के जरिए टिड्डियों को भगाने की कोशिशों में जुटे हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें

  • Aajtak Android App
  • Aajtak Android IOS




Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed