May 25, 2020

सीएम योगी को जानलेवा धमकी के बाद अब UP पुलिस को आया अंजाम भुगतने का मैसेज – One more threat to up police social media help desk related to cm yogi threat call

  • पहले दी गई थी सीएम योगी को बम से उड़ा देने की धमकी
  • रविवार को गिरफ्तार आरोपी को छोड़ने के लिए आया मैसेज

यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को जान से मारने की धमकी देने वाले एक आरोपी को महाराष्ट्र एटीएस ने मुंबई से शनिवार को गिरफ्तार किया था. अब इस मामले में एक नया मोड़ आया है. यूपी पुलिस की सोशल मीडिया हेल्प डेस्क को एक नई धमकी मिली है जिसमें मुंबई से गिरफ्तार किए गए युवक को छोड़ देने के लिए वरना अंजाम भुगतने के लिए तैयार रहने को कहा गया है.

खास बात यह है कि महाराष्ट्र एटीएस ने इस युवक को भी गिरफ्तार कर लिया है. 20 वर्षीय इस युवक को नासिक से गिरफ्तार किया गया है. शनिवार को एटीएस ने 25 वर्षीय कामरान खान को धमकी वाले मामले में मुंबई से गिरफ्तार किया था. कामरान ने यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ को बम से उड़ाने की धमकी दी थी. अब कामरान को छोड़ने के लिए नई धमकी देने का मामला सामने आया है.

रविवार को गिरफ्तार किए गए 20 साल के युवक की पहचान सैय्यद वहाब के तौर पर हुई है. सैय्यद दारुसलम कॉलोनी, मदीना चौक, नासिक का रहने वाला है.

यह भी पढ़ें: CM योगी को जान से मारने की धमकी देने वाला शख्स मुंबई से गिरफ्तार

पुलिस अधिकारियों के मुताबिक कामरान को शनिवार को गिरफ्तार किया गया था. 22 मई को उसने लखनऊ पुलिस मुख्यालय में काम करने वाली सोशल मीडिया हेल्प डेस्क पर फोन कर कहा था कि वह यूपी सीएम योगी आदित्यनाथ को बम धमाके में मार देगा. इस धमकी भरी कॉल को लेकर गोमती नगर पुलिस थाने में मामला दर्ज किया गया था. रविवार को आरोपी कामरान को कोर्ट में पेश किया गया जिसके बाद उसे ट्रांजिट रिमांड दे दी गई. कोर्ट के आदेश के बाद कामरान को यूपी एसटीएफ को सौंप दिया गया है.

इसके बाद यूपी पुलिस की सोशल मीडिया हेल्प डेस्क को एक नया मैसेज मिलता है कि आरोपी कामरान को तुरंत छोड़ दिया जाए वरना गंभीर अंजाम भुगतने होंगे. यूपी एसटीएफ ने यह जानकारी महाराष्ट्र एटीएस के साथ शेयर की जिसके बाद टेक्नीकल इंटेलीजेंस के आधार पर 20 वर्षीय सैय्यद वहाब को गिरफ्तार कर लिया गया. जानकारी के मुताबिक एटीएस की नासिक यूनिट ने आरोपी को गिरफ्तार किया है.

यह भी पढ़ें: CM योगी ने दिया माइग्रेशन कमीशन बनाने का निर्देश, श्रमिकों को मिलेगा रोजगार

अब आरोपी सैयद्द भी यूपी एसटीएफ को सौंप दिया जाएगा. इसके साथ ही पुलिस अब इस बात की भी जांच कर रही है कि कामरान और सैय्यद के बीच कोई संबंध तो नहीं है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें

  • Aajtak Android App
  • Aajtak Android IOS




Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed