May 23, 2020

coronavirus latest update: Coronavirus Latest Update : 69% मरीजों में नहीं कोरोना के लक्षण, 10 दिन तक नहीं आता बुखार तो कर दिए जाएंगे डिस्चार्ज – health ministry says 69 patients of covid 19 are asymptomatic in india


NBT

कोरोना वायरस का संक्रमण भारत में अभी भी तेजी से फैल रहा है। हर दिन संक्रमित मरीजों की संख्या में लगातार बढ़ोत्तरी हो रही है। भारत में इस समय 66,303 एक्टिव केस हैं और 48,533 लोगों को डिस्चार्ज किया जा चुका है। इसके अलावा 3,583 ऐसे लोग हैं जिनकी कोरोना वायरस के कारण मौत हो गई। हालांकि, लॉकडाउन में मिली छूट के बाद संक्रमण के मामलों में तेजी से बढ़ोत्तरी हुई है। स्वास्थ्य मंत्रालय ने कोरोना वायरस के मरीजों में दिखने वाले लक्षण को लेकर एक बयान दिया है। यह बयान मरीजों की डिस्चार्ज पॉलिसी से जुड़ा हुआ है।

क्या है स्वास्थ्य मंत्रालय का बयान?


NBT

स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने इस बारे में प्रेस कॉन्फ्रेंस करके जानकारी दी है। उन्होंने कहा है कि जिन मरीजों में कोरोना वायरस के कोई भी लक्षण 10 दिनों तक नहीं दिखाई देते हैं तो उन्हें डिस्चार्ज कर दिया जाएगा। ऐसे मरीजों में अगर इतने लंबे समय तक कोई भी गंभीर लक्षण नहीं दिखाई दे रहे हैं तो वह संक्रमण को नहीं फैला सकते हैं। । मरीजों के बारे में अग्रवाल ने विशेष जानकारी देते हुए यह बताया कि अभी तक 69% मरीज ऐसे हैं जो बिना लक्षण वाले हैं। हालांकि, इनमें वह लोग भी शामिल हो सकते हैं जो सामान्य लक्षण दिखने पर ही कोविड-19 केयर में भर्ती हो गए, लेकिन उनमें कोरोना वायरस का लक्षण नहीं था।

नियमित जांच होने के बाद ही किया जाएगा डिस्चार्ज

स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से यह भी कहा गया है कि कोरोना वायरस के जिन मरीजों में सामान्य एवं हल्के लक्षण दिखाई पड़ रहे हैं और उन्हें सही समय पर एडमिट किया गया है तो उनकी नियमित रूप से जांच की जाएगी। इसमें उनके शरीर का तापमान और पल्स रेट का ट्रैक रखा जाएगा। 10 दिनों तक चलने वाली इस प्रक्रिया में यदि उनमें कोई विशेष लक्षण नहीं दिखाई देते हैं जिसकी वजह से वह कोरोना वायरस को फैला सकते हैं, तब उस स्थिति में उन्हें डिस्चार्ज कर दिया जाएगा।

हालांकि, ऐसे लोगों को 7 दिन के लिए होम आइसोलेशन में रहने की भी सलाह दी जाएगी। इनमें वे लोग शामिल हैं जिनमें सामान्य लक्षण दिखे थे और कुछ लोग कोरोना वायरस से संक्रमित भी नहीं थे। ऐसे में स्वास्थ्य मंत्रालय की संशोधित डिस्चार्ज नीति के आधार पर इन्हें 10 दिन की विशेष निगरानी के बाद लक्षण ना मिलने की स्थिति में डिस्चार्ज कर दिया जाएगा। फिलहाल कोरोना वायरस की चपेट में आने से बचे रहने के लिए सभी जरूरी सेफ्टी टिप्स का पालन करें और कोई भी सामान्य लक्षण दिखने पर अपने नजदीकी स्वास्थ्य विभाग केंद्र से संपर्क करें।



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *