August 2, 2020

Coronavirus: Maharashtra govt announces three jumbo facility in Pune, Municipal Corporation says no money – Coronavirus: महाराष्ट्र सरकार ने पुणे में तीन जंबो फैसिलिटी का ऐलान किया, महानगरपालिका ने कहा

Coronavirus: महाराष्ट्र सरकार ने पुणे में तीन जंबो फैसिलिटी का ऐलान किया, महानगरपालिका ने कहा- पैसे नहीं

प्रतीकात्मक तस्वीर

पुणे:

Maharashtra Coronavirus: महाराष्ट्र के पुणे (Pune) में कोरोना वायरस संक्रमण तेजी से बढ़ रहा है. राज्य सरकार ने स्थानीय महानगर पालिका के साथ मिलकर तीन जंबो फैसिलिटी बनाने का निर्णय लिया है. इसके लिए पुणे महानगरपालिका को 300 करोड़ रुपये खर्च करने हैं. पर बीजेपी शासित पुणे महानगरपालिका का कहना है कि उसके पास पैसे नहीं हैं.

यह भी पढ़ें

पुणे में कोरोना संक्रमण के लगातार बढ़ते मामलों के कारण मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे गुरुवार को पुणे पहुंचे. उन्होंने अधिकारियों से मुलाकात की. बैठक में तय किया गया कि कोरोना संक्रमण को कम करने के लिए तीन जंबो सेंटर बनाए जाएंगे जिसके लिए पुणे महानगर पालिका, पुणे-पिम्परी महानगरपालिका, PMRDA और राज्य सरकार 300 करोड़ रुपये खर्च करेगी. लेकिन पुणे महानगर पालिका के महापौर ने बताया कि अब उनके पास पैसे नहीं हैं और वे पहले ही काफी रुपये खर्च कर चुके हैं.

पुणे के महापौर मुरलीधर मोहोल ने कहा कि ”पुणे महानगर पालिका ने पहले से ही ढाई सौ से तीन सौ करोड़ रुपये खर्च किए हैं. हमारे पास भी बजट की कमी है. मैंने मुख्यमंत्री से यह बात कही है कि इस बजट पर राज्य सरकार को ध्यान देना चाहिए.”

पुणे के अस्‍पताल में सामने आया देश का पहला मां-बेबी कोविड ट्रांसमिशन मामला

पुणे के एक अगस्त के आंकड़ों के अनुसार यहां 91930 लोग कोरोना वायरस से संक्रमित हैं. इससे अब तक 2175 लोगों की मौतहो चुकी है. पिछले कुछ दिनों में कोरोना संक्रमण के मामलों में बढ़ोतरी हुई है. बढ़ते मामलों को देखते हुए मुख्यमंत्री न बैठक में मृत्यु दर और संक्रमण को कम करने के लिए सभी प्रतिनिधियों से सहयोग करने की बात कही. उन्होंने आपातकालीन हालात में लोगों के हित में निर्णय लेने की अपील की.

पुणे महानगर पालिका में बीजेपी सत्ता में है और महापौर के उक्त बयान को राजनैतिक तौर पर भी देखा जा रहा है. कांग्रेस ने बीजेपी पर राजनीति करने का आरोप लगाया है. कांग्रेस के प्रवक्ता सचिन सावंत ने कहा कि ”जब मुंबई में कुछ होता है तो बीएमसी ज़िम्मेदार और पुणे में कुछ होता है तो महाराष्ट्र सरकार ज़िम्मेदार कैसे? ऐसे समय में ज़रूरत है कि राजनीति न की जाए और साथ में काम किया जाए.”

पुणे के रहने वाले शंकर कुराडे पहनते हैं सोने का मास्क, कीमत 2 लाख के पार

जिस तरह से पहले दिन से ही महाराष्ट्र में कोरोना संक्रमण के मामले सबसे ज़्यादा बने हुए हैं, उसे देखते हुए ज़रूरत है कि राज्य सरकार और विपक्ष दोनों एक साथ काम करें ताकि कोरोना पर काबू पाया जा सके.


Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *