April 8, 2021

north korea leader kim jong un says country is facing its worst ever situation in party meet | North Korea के नेता Kim Jong Un का कबूलनामा, कहा- सबसे बुरे दौर से जूझ रहा देश

नई दिल्ली: उत्तर कोरिया (North Korea) के सुप्रीम नेता नेता किम जोंग उन (Kim Jong Un) ने कबूल किया है कि उनका देश इस वक्त अब तक की ‘सबसे खराब स्थिति’ का सामना कर रहा है. तानाशाह शासक ने अपने देश की खस्ताहाल अर्थव्यवस्था का ठीकरा कोरोनो वायरस महामारी (Coronavirus Pandemic) के ऊपर फोड़ा है. 

पार्टी की बैठक में बयान

प्योंगयांग (Pyongyang) में मंगलवार को सत्तारूढ़ ‘वर्कर्स पार्टी’ की शीर्ष स्तरीय बैठक के दौरान विभिन्न शाखा सचिवों को संबोधित करते हुए किम ने ये सच्चाई सभी के सामने स्वीकार की है. महत्वपूर्ण राजनीतिक आयोजन के दौरान पार्टी के हजारों सदस्यों को संबोधित करते हुए किम ने माना कि उनका देश ‘बेहद खराब दौर’ से गुजर रहा है. 

जानकारों की राय

कोरियाई प्रायद्वीप की राजनीति स्थितियों से वाकिफ एक्सपर्ट्स का मानना है कि उत्तर कोरिया में किम जोंग के शासन का एक दशक पूरा होने जा रहा है. वहीं पहले से ही डांवाडोल उत्तर कोरिया की अर्थव्यवस्था कोविड-19 (Covid-19) संक्रमण के प्रसार को फैलने से रोकने के लिए लगाए गए लॉकडाउन (Lockdown) और अमेरिका के प्रतिबंधों (US Sanctions) के कारण बुरी तरह चरमरा गई है. उत्तर कोरिया की आधिकारिक कोरियन सेंट्रल न्यूज एजेंसी ने कहा कि किम ने मंगलवार को वर्कर्स पार्टी के शाखा सचिवों की बैठक में ये टिप्पणियां कीं. 

ये भी पढ़ें- Corona पर North Korea का बड़ा दावा, WHO से कहा- अब भी कोई मामला नहीं

पार्टी की शाखाओं की जानकारी

रूलिंग पार्टी की शाखाओं यानी सेल की बात करें तो इसमें पांच से 30 सदस्य तक होते हैं. ये पार्टी की सबसे छोटी इकाई है. जिसकी मौजूदगी और पकड़ देश के फैक्ट्री, कारखानों समेत पर पूरे क्षेत्र में हैं. माइक्रो मैनेजमेंट और देश के लोगों की नब्ज पकड़ने की ताकत होने के चलते इनका इस्तेमाल देश की सत्ता में पकड़ बनाए रखने के लिए एक अहम टूल की तरह किया जाता है. सेल सचिवों का पिछला सम्मेलन 4 साल पहले 2017 में आयोजित हुआ था.  

‘किम जोंग’ का सियासी सफर 

किम जोंग उन साल 2011 में उस वक्त सत्ता में आए थे जब उनके पिता किम जोंग इल की मृत्यु हुई थी. 9 मई 2016 को सत्तारूढ़ पार्टी की दुर्लभ शीर्ष स्तरीय बैठक के दौरान किम को वर्कर्स पार्टी के अध्यक्ष का पद सौंपा गया था. तत्कालीन शासनाध्यक्ष किम योंग नाम ने अध्यक्ष पद पर ताजपोशी का ऐलान किया था. साल 1948 में उत्तर कोरिया की स्थापना के बाद वंशानुगत शासन की तीसरी पीढ़ी के नेता किम जोंग उन इससे पहले पार्टी के प्रथम सचिव थे.

ये भी पढ़ें- Human Hair Smuggling: भारत से बड़े पैमाने पर हो रही है तस्करी, सरकारी खजाने को करोड़ों का नुकसान

(इनपुट एजेंसियों से)

LIVE TV




Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *