December 9, 2021

Chief Minister Bhupesh baghel elder father congress leader Shyamacharan Baghel dies CM changed Delhi schedule cgnt

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता श्यामाचरण बघेल का निधन हो गया है.

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता श्यामाचरण बघेल का निधन हो गया है.

Chhattisgarh News: छत्तीसगढ़ सीएम भूपेश बघेल (CM Bhupesh Baghel) का शेड्यूल बदल दिया गया है. भूपेश बघेल का बुधवार को दिल्ली में रुकने का कार्यक्रम रद्द कर दिया गया है. अब वे चंडीगढ़ से सीधे रायपुर आएंगे. सीएम के बड़े पिता श्यामाचरण बघेल का निधन हो गया है. श्यामाचरण बघेल छत्तीसगढ़ मनवा कुर्मी समाज (Manwa Kurmi Samaj) के 2 बार अध्यक्ष रह चुके हैं. वे लंबे समय से बीमार थे. 97 साल की उम्र में उनका निधन हुआ.

रायपुर. छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल (CM Bhupesh Baghel) के बड़े पिता श्यामाचरण बघेल (Shyamacharan Baghel) का निधन हो गया है. बुधवार को उन्होंने अंतिम सांसे लीं. अपने दौर में कांग्रेस (Congress) के सक्रिय नेता रहे श्यामाचरण बघेल 97 वर्ष के थे. श्यामाचरण बघेल का अंतिम संस्कार उनके पैतृक गांव कुरुडीह पाटन में किया जाएगा. श्यामाचरण बघेल छत्तीसगढ़ मनवा कुर्मी समाज (Manwa Kurmi Samaj) के 2 बार अध्यक्ष रह चुके हैं. वे लंबे समय से बीमार थे. उनकी मौत की सूचना के बाद से ही समाज में शोक की लहर है. सुबह से ही उनके निवास पर समर्थकों व चाहने वालों के पहुंचने का सिलसिला शुरू हो गया है. श्यामाचरण के अंतिम दर्शन के लिए बड़ी संख्या में लोग उनके निवास पहुंचे. श्यामाचरण के भतीजे व कांग्रेस नेता सुजीत बघेल ने उनके निधन की पुष्टि की है.

छत्तीसगढ़ सीएम भूपेश बघेल का शेड्यूल बदल दिया गया है. भूपेश बघेल का बुधवार को दिल्ली में रुकने का कार्यक्रम रद्द कर दिया गया है. अब वे चंडीगढ़ से सीधे रायपुर आएंगे. पहले रायपुर लौटते हुए दिल्ली में रुकने का कार्यक्रम था. बताया जा रहा है कि बड़े पिता के निधन की खबर के बाद सीएम ने अपना शेड्यूल बदला है. वे चंडीगढ़ में हैं और शाम तक रायपुर पहुंच जाएंगे. बताया जा रहा है कि रायपुर से वे अपने गांव कुरूडीह में बड़े पिता के निवास जा सकते हैं. हालांकि इसको लेकर कोई आधिकारिक प्रोटोकॉल जारी नहीं किया गया है.

कांग्रेस के बड़े नेता के तौर पर पहचान
बता दें कि श्यामाचरण बघेल की पहचान कांग्रेस के बड़े नेता के तौर पर रही है. वे एक समय में तत्कालीन मध्य प्रदेश के लगभग सभी वरिष्ठ कांग्रेस नेताओं के करीबी रहे हैं. दुर्ग जिले में भिलाई इस्पात संयंत्र के स्थापना के बाद किसानों से अधिग्रहित जमीनों का उचित मुआवजा दिलाने में भी श्यमाचरण बघेल की महत्वपूर्ण भूमिका बताई जाती है. उन्होंने पूर्व में कई आंदोलनों में भी बढ़चढ़कर हिस्सा लिया था. लंबी बीमारी के बाद उनका निधन हो गया है.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.




Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *