October 18, 2020

SAIL increases 2020 performance incentive for non-executive personnel

सेल ने नॉन इग्ज़ीक्युटिव कार्मिकों के 2020 के परफ़ार्मेंस इनसेंटिव में बढ़ोतरी की

प्रतीकात्मक फोटो.

नई दिल्ली:

स्टील अथॉरिटी ऑफ इंडिया लिमिटेड (SAIL) ने आगामी दुर्गापूजा / दशहरा त्योहारों को देखते हुए नॉन इग्ज़ीक्युटिव कार्मिकों वार्षिक परफ़ार्मेंस इनसेंटिव / एक्स-ग्रेसिया / बोनस में पिछले साल की तुलना में 6% बढ़ोत्तरी की घोषणा की है. इसका निर्णय सेल प्रबंधन और कामगारों के प्रतिनिधि सीनियर ट्रेड यूनियन लीडर्स तथा नेशनल ज्वाइंट्स कमिटी फॉर स्टील इंडस्ट्री (NJCS) के घटक यूनियनों यथा आईएनटीयूसी, सीआईटीयू, एआईटीयूसी, एचएमएस एवं बीएमएस के बीच बातचीत एवं आपसी समझौते के आधार पर किया गया. सरकार की कामगार वर्ग को प्रोत्साहित करने की पहल की दिशा में कदम उठाते हुए, सेल ने मौजूदा त्योहारी सीजन के दौरान पिछले साल की तुलना में एक्स-ग्रेसिया बढ़ाकर भुगतान की घोषणा की है. 

यह भी पढ़ें

सेल के भिलाई, बोकारो, दुर्गापुर, बर्नपुर और राउरकेला के पांच एकीकृत इस्पात संयंत्रों के साथ – साथ रॉ मटेरियल डिवीजन एवं कोलियरी डिवीजन के नॉन इग्ज़ीक्युटिव कार्मिकों को 16,500 रुपये का भुगतान किया जाएगा जबकि इनके अलावा सेल के दूसरे संयंत्रों और इकाइयों के नॉन इग्ज़ीक्युटिव कार्मिकों को 14,500 रुपये का भुगतान किया जाएगा.

सेल अध्यक्ष अनिल कुमार चौधरी ने कहा, “सेल हमेशा से अपने कार्यबल के बेहतर देख-रेख को अपनी प्राथमिकता में सबसे ऊपर रखता है और इस दिशा में सरकार के हर तरह की  पहल को लागू करने के लिए प्रतिबद्ध है. यह एक्स-ग्रेसिया मौजूदा त्योहारी सीजन के दौरान सेल के कामगारों की खर्च करने की क्षमता को बढ़ाने में मददगार साबित होगा.”

सेल आगामी दुर्गापूजा / दशहरा त्योहारों की शुरुआत से पहले अपने नॉन इग्ज़ेक्यूटिव कार्मिकों को परफ़ारर्मेंस इनसेंटिव / एक्स-ग्रेसिया का भुगतान कर देगा, कार्मिकों की इन त्योहारों के दौरान उनकी खरीददारी की क्षमता को बढ़ाएगा. इसके साथ ही यह बाज़ार में आर्थिक तरलता को बढ़ाने में मदद करेगा और स्टील टाउनशिप में आर्थिक गतिविधियों को भी बढ़ावा देगा. यही नहीं इससे कोविड के चलते अर्थव्यवस्था पर पड़े प्रतिकूल प्रभाव को कुछ हद तक कम करने में मदद मिलेगी.


Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed