April 20, 2020

संस्कृति संस्थानों में बैठे कांग्रेसी कृपापात्रों पर चला शिवराज का डंडा

कमलनाथ सरकार द्वारा नियुक्त पदाधिकारी हटाए गए

माखनलाल पत्रकारिता विवि के बाद वैचारिक संस्थानों से भी कांग्रेसियों की छुट्टी

भोपाल। माखनलाल चतुर्वेदी राष्ट्रीय पत्रकारिता विश्वविद्यालय के कुलपति दीपक तिवारी के इस्तीफे के बाद अन्य वैचारिक संस्थानों से भी कमलनाथ सरकार द्वारा नियुक्त पदाधिकारियों को सोमवार को हटा दिया गया।
शिवराज सिंह चौहान सरकार ने संस्कृति विभाग से सम्बंधित संस्थान और शोधपीठ में बैठाए गए पदाधिकारियों को हटाने के आदेश दिए हैं।
सरकार ने उर्दू अकादमी के अध्यक्ष पूर्व राज्यपाल अजीज कुरैशी और सचिव हिसमउद्दीन फारूकी को तत्काल प्रभाव से हटा दिया है।
धर्मपाल शोधपीठ के निदेशक ध्रुव शुक्ल और महाराजा विक्रमादित्य शोधपीठ के निदेशक डॉ प्रकाशेन्द्र माथुर भी पदमुक्त कर दिए गए हैं।
इसीतरह संस्कृति विभाग के तहत आने वाली पांच अकादमियों के निदेशक भी हटा दिए गए हैं।

यह भी देखें : कोरोना हॉटस्पॉट इंदौर का इलाज करेगी प्रधानमंत्री की स्पेशल टीम
बता दें कि मध्यप्रदेश में सत्ता परिवर्तन के बाद कांग्रेस सरकार ने इन संस्थानों में नियुक्त बीजेपी और आरएसएस की विचारधारा वाले सभी पदाधिकारी हटा दिए थे। अपने वैचारिक दृष्टिकोण के विस्तार की दृष्टि से राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ फिर इनमें अपने लोगों की नियुक्ति चाहता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *