Sunday, May 19, 2024
HomeBreaking Newsआज धूमधाम से मनाया जा रहा है 'पोरा' पर्व, त्योहार पर बैलों...

आज धूमधाम से मनाया जा रहा है ‘पोरा’ पर्व, त्योहार पर बैलों की होती है पूजा

भोपाल/ जांजगीर चांपा। आज पूरे देश में पारंपरिक त्योहार ‘पोरा’ मनाया जा रहा है। मध्य प्रदेश में भी यह धूमधाम से मनाया जाता है। छत्तीसगढ़ का भी यह पारम्परिक त्योहार है। “पोरा” 14 सितंबर को बड़े ही हर्षोल्लास से मनाया जाएगा. जिसकी तैयारियां पूरे प्रदेश में बड़े ही धूमधाम से की जा रही हैं. सीएम हाउस से लेकर गांवों तक इसकी धूम देखने मिल रही है. सदियों से चली आ रही इस परम्परा का महत्व आधुनिक काल के युवा आज भी नहीं समझ पाए हैं. इसके लिए बाजार में पूजा के लिए मिट्टी से बने नंदी, बैल समेत जांता चक्की व चूल्हा का सेट भी बिक रहा है. जांजगीर चांपा जिले में ग्रामीण क्षेत्र में पोरा त्योहार किसानों द्वारा मनाया जाता है. इस दिन कृषक गाय, बैलों की पूजा करते हैं. इस त्योहार को बड़ी धूमधाम से मनाते हैं. इस दिन शहर की गलियों और मोहल्लों में दौड़ लगाने के लिए नंदी बइला (मिट्टी के बैल) तैयार हो गए हैं. बाजारों में बिक्री के लिए भी पहुंचे हुए हैं. इन बैलों की कीमत 40 से 80 रुपये प्रति जोड़ी मिल रही है. वहीं जांता-पोरा और मिट्टी के दूसरे खिलौने भी 120-160 रूपए तक उपलब्ध हैं. 

पोरा त्योहार भादो माह की अमावस्या तिथि को मनाया जाता है. इस दिन बैलों का श्रृंगार कर उनकी पूजा की जाती है. बच्चे मिट्टी के बैल चलाते हैं. इस दिन बैल दौड़ का भी आयोजन किया जाता है. और इस दिन में बैलों से कोई काम भी नहीं कराया जाता है. घरों में अच्छे-अच्छे व्यंजन बनाए जाते हैं. बैल, धरती और अन्न को सम्मान देने के लिए यह पर्व मनाया जाता है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

RECENT COMMENTS