Sunday, May 19, 2024
HomeBreaking Newsभारत सरकार को मंदिरों को अपने अधिग्रहण से करना चाहिए मुक्त :...

भारत सरकार को मंदिरों को अपने अधिग्रहण से करना चाहिए मुक्त : धीरेंद्र कृष्ण शास्त्री, बागेश्वर धाम पीठाधीश्वर

छतरपुर बागेश्वर धाम के पीठाधीश्वर धीरेन्द्र कृष्ण शास्त्री का बड़ा बयान भारत सरकार को मंदिरों को अपने अधिग्रहण से मुक्त करना चाहिए,उन्होंने कहा मन्दिरो का भार आपके पास रहे लेकिन मंदिरों के दान से हज की यात्रा न करवाई जाए,भारत के जितने प्रसिद्ध मंदिर है अगर उन मन्दिरो से एक एक अस्पताल, एक एक गुरुकुलम ,गरीब कन्याओं का विवाह रख दिया जाय तो भारत को विश्व गुरु बनने से कोई नही रोक सकता,उन्होंने कहा 5 मार्च को देश की सभी संत विभूतियों को आमंत्रित किया जा रहा है अनिरुद्धाचार्य ,प्रदीप मिश्रा सहित विशिष्ट विशिष्ट महात्मा बागेश्वर धाम में रहेंगे ,उसी दिन ये नई क्रांति भारत मे प्रारम्भ होगी,इसके बाद फिर हिन्दू राष्ट्र की यात्रा शुरू होगी,उन्होंने कहा ये तो झांकी है ,हिन्दू राष्ट्र अभी बांकी है,भूलेंगे नही ,न भूलने देंगे,चुप हैं तो कायर मत समझना,ये हमारे संस्कार है ,की हम विनम्र हैं पर माला और भाला भी रखते हैं,मंदिरों को सरकार के अधिग्रहण से मुक्त करने को लेकर उन्होंने आगे कहा कि ऐसा हो तो ठीक नही तो एक साल छोड़कर अगले साल फिर 11सौ कुंडीय यज्ञ करवाकर भारत सरकार की सद्बुद्धि के लिए यज्ञ करवाएंगे,उन्होंने कहा 5 मार्च की सभी मंदिरों के आचार्यों,पुजारियों को आना चाहिए वरना धीरे-धीरे स्थिति बहुत विचित्र हो जाएगी, मंदिर सिर्फ दान पात्र से आने वाले रूपयों का अड्डा होगा, मंदिरों के दान से केवल मंदिरों का विकास होगा समाज का नहीं, और समाज का विकास नहीं होगा तो भारत विश्व गुरु नहीं बनेगा, बागेश्वर बाबा ने कहा की जरूरत पड़ी तो हम रामलला से मथुरा तक की यात्रा करेंगे,शायराना अंदाज में कहा कि , हमें मंदिरों में भीड़ और सड़कों पर तूफान चाहिए, राम राज्य से भरा हमें हिंदुस्तान चाहिए, उन्होंने ने पब्लिक से कहा कैसे लोग हो एक आया दिन में बोला अली- अली तो तुम ताली पीट रहे , लेकिन हमने कहा नही ,हरी, हरि,ये अली का नही बजरंगबली का देश है,ये हनुमानजी का मंच है हरि हरि चलेगा,हरा नही चलेगा, हरा बुद्ध का कलर है हमें हरे कलर से दिक्कत नहीं है किसी को अगर दिक्कत हो तो वह उसकी टेंशन,बागेश्वर बाबा बोले अगर भारत मे सन्त नही होते तो चांद पर तिरंगा नही तिरंगे में चांद लहराता,उन्होंने आगे कहा 8 से 9 प्रदेश तुम्हारे हाँथ से चले गए ,हिन्दू अल्प संख्यक हो गए,धीरे धीरे तुम्हारी बारी,लेकिंन हम है,घबराना नही है, बता दें के यह बयान धीरेन्द्र कृष्ण शास्त्री ने बीती देर रात ,बागेश्वर धाम में हो रहे ,कुमार विश्वास के अपने अपने राम कथा के मंच से दिया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

RECENT COMMENTS