Monday, February 26, 2024
HomeThe Worldpakistan in united nations against ram mandir ayodhya india for interference

pakistan in united nations against ram mandir ayodhya india for interference

Ram Mandir Ayodhya: अयोध्या में राम मंदिर की प्राण प्रतिष्ठा के बाद से पाकिस्तान भारत पर भड़का हुआ है. इसी बीच पाकिस्तान ने संयुक्त राष्ट्र से भारत में मौजूद इस्लामिक स्थलों की सुरक्षा सुनिश्चित करने का आग्रह किया है. संयुक्त राष्ट्र में पाकिस्तान के दूत मुनीर अकरम ने बुधवार को न्यूयॉर्क स्थित संयुक्त राष्ट्र मुख्यालय में एक बैठक के दौरान यह मांग की. उन्होंने संयुक्त राष्ट्र अलायंस ऑफ सिविलाइजेशन के उच्च अधिकारी मिगुएल एंजेल मोराटिनोस को संबोधित करते हुए एक पत्र लिखा है.

इस पत्र में लिखा गया है कि पाकिस्तान भारत के अयोध्या में ध्वस्त बाबरी मस्जिद के स्थान पर राम मंदिर के निर्माण और प्राण प्रतिष्ठा की कड़े शब्दों में निंदा करता है. यह ट्रेंड भारतीय मुसलमानों के सामाजिक, आर्थिक और राजनीतिक कल्याण के साथ-साथ क्षेत्र में सद्भाव और शांति के लिए भी गंभीर खतरा पैदा करती है.

‘हस्तक्षेप करने की तत्काल जरूरत’
पत्र में इस बात पर जोर दिया गया है कि भारत में इस्लाम से संबंधित विरासत स्थलों की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए हस्तक्षेप करने की तत्काल जरूरत है. पाकिस्तान ने पत्र में कहा है कि अयोध्या में राम मंदिर के निर्माण के बाद से भारत में इस्लामिक स्थलों को लेकर चिंताएं बढ़ गई हैं. पाकिस्तान ने चिंता व्यक्त की है कि ज्ञानवापी मस्जिद और मथुरा स्थित शाही ईदगाह मस्जिद सहित अन्य मस्जिदों का अस्तित्व भी खतरे में है.

‘इस्लामिक स्थलों को लेकर चिंताएं’
पाकिस्तान ने संयुक्त राष्ट्र से भारत में मुस्लिम धार्मिक स्थलों की सुरक्षा के लिए हस्तक्षेप करने की मांग की है. पत्र में कहा है कि अयोध्या में राम मंदिर की प्राण प्रतिष्ठा भारत में मस्जिदों को मिटाने के प्रयास और धार्मिक भेदभाव की ओर इंगित करता है. अकरम ने कहा कि अयोध्या में राम मंदिर के निर्माण के बाद से भारत में इस्लामिक स्थलों को लेकर चिंताएं बढ़ गई हैं. उन्होंने कहा कि ज्ञानवापी मस्जिद और मथुरा स्थित शाही ईदगाह मस्जिद सहित अन्य मस्जिदों को भी इसी तरह के खतरों का सामना करना पड़ रहा है.

‘बाबरी मस्जिद से भी आगे बढ़ चुका’
अकरम ने कहा कि संयुक्त राष्ट्र को इस्लाम से जुड़ी विरासत स्थलों की सुरक्षा और भारत में धार्मिक और सांस्कृतिक अल्पसंख्यकों के अधिकारों को सुरक्षित करने में अपनी महत्वपूर्ण भूमिका निभानी चाहिए. पाकिस्तान ने अपने पत्र में साफ लिखा कि पाकिस्तान ने कहा है कि मामला बाबरी मस्जिद से भी आगे बढ़ चुका है. भारत के वाराणसी स्थित ज्ञानवापी मस्जिद और मथुरा स्थित शाही ईदगाह मस्जिद सहित अन्य मस्जिदों का अस्तित्व भी खतरे में नजर आ रहा है.


Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

RECENT COMMENTS